[PMMSY] प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना 2020 आवेदन फॉर्म PDF

PM Matsya Sampada Yojana 2020-: नमस्कार मित्रों, जैसा की आप सभी को पता है की सरकार सभी क्षेत्रों के लिए आय दिन कोई न कोई योजना शुरू करती है। लेकिन जिस योजना की जानकारी आज हम आपको देंगे। वह योजना जलीय उत्पादों के क्षेत्र में जो भी व्यक्ति काम करते हैं, उनके लिए है। जिसका नाम “प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना 2020 (Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojna)” है। केंद्र सरकार ने यूनियन बजट 2019-20 को रखते हुए मछुआरा समुदायों के लोगों के लिए इस योजना को लॉन्च करने की घोषणा कर दी है। इस योजना की क्या – क्या विशेषताएं हैं यह जानने के लिए आपको हमारा यह आर्टिकल को अंत तक ध्यान से पढ़ना होगा।

PM-Matsya-Sampada-Yojana-In-Hindi
PM-Matsya-Sampada-Yojana-In-Hindi

New Update :- दोस्तों, सरकार द्वारा आत्मनिर्भर भारत अभियान (Self-Reliant India Mission) की घोषणा की गयी यह पैकेज 20 लाख करोड़ रूपये है। जिसकी तीसरी क़िस्त की जानकारी देते हुए। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना (PM Matsya Sampada Yojana) के लिए 20 हजार करोड़ का एलान किया। इस पैकेज से 55 लाख से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा और 1 लाख करोड़ रुपये का दोहरा निर्यात होगा। जल्द ही सरकार द्वारा PM Matsya Sampada Yojana के आवेदन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। सभी जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट www.govtprocess.in के साथ बने रहें।

[Third Installment] आत्मनिर्भर भारत पैकेज की तीसरी किस्त

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना क्या है?

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana Details-

  • बजट 2019-20 में शुरू की गई “पीएम मत्स्य संपदा योजना” का उद्देश्य जलीय कृषि को बढ़ावा देना है।
  • जिससे जलीय क्षेत्रों में व्यापार को बढ़ाया जा सके और व्यापार को और अधिक बढ़ाने के लिए ऋण की पहुँच को मछुआरा समुदायों तक आसान बनाया जा सके।
  • सरकार सभी मछुआरों को किसानों के लिए चल रही कल्याणकारी योजनायें और समाज कल्याण योजनाओं के अंतर्गत लाना चाहती है, जिससे दुर्घटना की स्थिति में बीमा कवरेज दिया जा सके।
  • पिछले वित्त वर्ष 2018-19 में पीएम मोदी के नेतृत्व वाली कैबिनेट समिति ने 7,522 करोड़ रूपये का विशेष मत्स्य पालन और एक्वाकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट फंड आवंटित किया था।
  • सरकार ने इस पीएम मतस्य संपदा योजना को “नीली क्रांति” का नाम दिया है।
  • जिसके सफलतापूर्वक कार्यान्वन के लिए एक अलग से विभाग,मंत्रालय भी बनाया गया है।
  • वित्तीय वर्ष 2020-21 तक सरकार ने 15 मिलियन टन के मछ्ली उत्पादन का लक्ष्य रखा है जिसका नीली क्रांति के अंतर्गत इम्प्लीमेंटेशन किया जाएगा।
क्र. म. जानकारी बिंदु योजना की जानकारी
1. योजना का नाम PM Matsya Sampada Yojana
2. लांच डेट केन्द्रीय बजट 2019-21 के दौरान
3. योजना की घोषणा वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण जी द्वारा
4. योजना की शुरुआत जल्द ही
5. लाभार्थी मछली पालन एवं जलीय क्षेत्र में काम करने वाले व्यक्ति यानि मछुआरे
6. संबंधित विभाग मत्स्यिकी विभाग (http://nfdb.gov.in)
7. आधिकारिक वेबसाइट http://dof.gov.in/
8. e-GOPALA App Download Here
पीएम मत्स्य संपदा योजना के लाभ एवं विशेषताएं-

PM Matsya Sampada Yojana Benefits and Features:

  • प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के अंतर्गत मात्स्यिकी विभाग के ढ़ांचे का निर्माण किया जाएगा।
  • इसके अंतर्गत प्राइस चेन को स्ट्रॉंग बनाया जाएगा और जरूरी कमियों का निपटारा किया जाएगा।
  • जिसमें इंफ्रास्ट्रक्चर, आधुनिकीकरण, पता लगाने की योग्यता, उत्पादन, उत्पादकता, पैदावार प्रबंध और गुणवत्ता आदि के ऊपर नियंत्रण कैसे किया जाये शामिल हैं।
  • इस योजना के माध्यम से जलीय क्षेत्र को भी अन्य क्षेत्र की तरह समान लाभ प्राप्त होगा। ताकि जलीय क्षेत्र को भी बढ़ावा मिल सके।
  • PM Matsya Sampada Yojana के माध्यम से मछुआरा समुदाय से संबंध रखने वाले लोगों के लिए ऋण की सुविधा आसान की जाएगी, ताकि जलीय क्षेत्रों में भी जलीय उत्पादों से संबंधित या अन्य को व्यवसाय करने में बढ़ावा मिले।
  • इस योजना को मछली पालन को बढ़ावा दिये जाने के लिए भी शुरू किया गया हैं। क्योंकि यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण क्षेत्र हैं, जिससे मछली के उत्पादन में भी वृद्धि होगी।
मत्स्य संपदा योजना पंजीकरण हेतु पात्रता/योग्यता शर्तें-

Eligibility Conditions for PM Matsya Sampada Yojana:

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना का लाभ लेने के लिए उम्मीदवारों के पास निम्न्लिखित पात्रता एवं योग्यता होनी जरूरी है-

  1. जलीय जीवों की खेती करने वाले लोग => वे व्यक्ति जो मछलीपालन के अलावा अन्य जलीय जीवों की खेती करना चाहते हैं। इस योजना के पात्र होंगे।
  2. प्राकृतिक आपदा से पीड़ित => वे मछुआरे जो किसी तरह की प्राकृतिक आपदा से ग्रसित हैं।इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  3. जलीय कृषि करने वाले लोग => उम्मीदवार जो जलीय कृषि कर रहे हैं या फिर इच्छुक हैं।वो भी इस योजना में लाभ लेने के लिए पात्र होंगें।
PM Matsya Sampada Yojana (New Update)-

केंद्र सरकार ने मछली पकड़ने के उद्योग से संबंधित बुनियादी ढांचे को विकसित करने के लिए एक विशेष कोष भी बनाया है, इस निधि का उपयोग समुद्री और अंतर्देशीय मत्स्य क्षेत्रों दोनों में मत्स्य अधोसंरचना सुविधाओं के निर्माण के लिए किया जाएगा। साथ ही मोदी सरकार ने वित्त वर्ष 2024-25 तक अतिरिक्त 70 लाख टन मछली उत्पादन का लक्ष्य रखा है। मत्स्य निर्यात में 1 लाख करोड़ और अगले 5 वर्षों में 55 लाख रोजगार के अवसर पैदा हुए। इसके साथ ही सरकार फसल में हुए नुकसान को 20% से घटाकर लगभग 10% करने पर ध्यान केंद्रित कर रही है।

FIDF funds का उपयोग बुनियादी सुविधाओं के निर्माण और प्रबंधन में निजी निवेश को आकर्षित करने के लिए किया जाएगा। इसके अलावा, सरकार अत्याधुनिक तकनीकों के अधिग्रहण पर भी ध्यान केंद्रित करेगी। एफआईडीएफ राज्य सरकार, सहकारी समितियों, व्यक्तियों और उद्यमियों को रियायती वित्त प्रदान करने जा रहा है। इस वित्त का उपयोग मत्स्य विकास के पहचाने गए निवेश गतिविधियों को लेने के लिए किया जाएगा। एफआईडीएफ के तहत, 2018-19 से 2022-23 तक ऋण की अवधि पांच वर्ष से अधिक होगी। प्रिंसिपल के पुनर्भुगतान पर अधिकतम अदायगी 12 वर्ष की अवधि होगी जिसमें 2 वर्ष की अधिस्थगन शामिल होगी।

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना में आवेदन कैसे करें?

How to Apply in Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojna:

सरकार द्वारा अभी केवल प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना का एलान किया है। इसका ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन पत्र या पंजीकरण कहां पर करेंगे इसकी जानकारी नहीं दी है। जैसे ही हमें पीएम मत्स्य संपदा योजना के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन या पंजीकरण की कोई भी जानकारी मिलती है हम अपने आर्टिकल पर अपडेट कर देंगे।

[Covid-19] पीएम आत्मनिर्भर भारत अभियान पैकेज की घोषणा

PMMSY हेतु ई गोपाला मोबाइल एप्प डाउनलोड करें-

e-Gopala Mobile App किसानों के प्रत्यक्ष उपयोग के लिए एक व्यापक नस्ल सुधार बाजार और सूचना पोर्टल है। वर्तमान में देश में पशुओं का प्रबंधन करने वाले किसानों के लिए कोई डिजिटल प्लेटफॉर्म उपलब्ध नहीं है, जिसमें सभी प्रकार के रोग मुक्त जर्मप्लाज्म की खरीद और बिक्री, गुणवत्ता प्रजनन सेवाओं की उपलब्धता और किसानों को पशु पोषण के लिए मार्गदर्शन करना, उपयुक्त दवा का उपयोग कर पशुओं का इलाज शामिल है। टीकाकरण, गर्भावस्था निदान और अन्य मुद्दों के बीच शांत करने के लिए नियत तारीख पर अलर्ट भेजने और क्षेत्र में विभिन्न सरकारी योजनाओं और अभियानों के बारे में किसानों को सूचित करने के लिए कोई तंत्र नहीं है।

ई-गोपाला ऐप इन सभी पहलुओं पर किसानों को समाधान प्रदान करेगा। प्रधानमंत्री ने मधेपुरा में एक यूनिट फिश फीड मिल का भी उद्घाटन किया और “नीली क्रांति” के तहत पटना, बिहार में “Fish on Wheels” की दो इकाइयों स्थापित की है।

Download e Gopala App for PMMSY

पीएम मत्स्य संपदा योजना अधिक जानकारी व सम्पर्क विवरण-

PM Matsya Sampada Yojana More Information and Contact Details:

  • राष्ट्रीय मात्स्यिकी विकास बोर्ड
  • मत्स्य पालन विभाग
  • कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार
  • “मत्स्य भवन” स्तंभ सं. 235, पी.वी.एन.आर. एक्सप्रेसवे
  • एस.वी.पी.एन.पी.ए. डाकघर, हैदराबाद-500052.

NATIONAL-FISHERIES-DEPT-PORTAL

  • टेली: (+91) 040 2400-0201/177
  • फैक्स: (+91) 040 2401-5568
  • नि:शुल्क हेल्पलाइन: 1800-425-1660
  • ई-मेल: [email protected], [email protected]

Click Here

प्रधानमंत्री द्वारा शुरू की गयी योजनाओ की जानकारी के लिए => यहां क्लिक करें

प्रिय पाठकों, हमारे द्वारा दी गई “प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना (PM Matsya Sampada Yojana 2020)” की जानकारी आपको केसी लगी। यदि आपको इससे जुडी कोई अन्य जानकारी या कोई सवाल पूछना हो तो आप हमे नीचे कमेंट बॉक्स में जाकर कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हो। हम जल्द जी आपको जवाब देंगे। अन्य सभी सरकारी योजनाओ की अधिक अपडेट के लिए हमारे पेज www.govtprocess.in के साथ बने रहें। धन्यवाद-

6 Comments
  1. Ajeet Singh Patel says

    Thanks for this artical

  2. Anonymous says

    प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना (PMMSY 2020) हेतु आवेदन फॉर्म कहाँ जमा करना है?

  3. Ranu Pratap Singh says

    Jinda machhali Kala Kendra scheme ko ham chahte Hain karna kis se sampark Karen Kya Karen kaun kaun se document lagenge district siddharthnagar block khesraha village madhuapur post Kalanakhor mobile number9621813600

  4. Sonia says

    Nice post, thanks for sharing…

  5. Basant says

    Macan – Harda

  6. Mukesh barskar says

    Mai neme mukesh. Barskar karigar hu

Leave A Reply

Your email address will not be published.