मुख्यमंत्री राज कौशल पोर्टल राजस्थान 2020 ऑनलाइन पंजीकरण

Mukhyamantri Raj Kaushal Portal Rajasthan 2020-: राजस्थान सरकार ने अपने प्रदेश के प्रवासी श्रमिकों के लिए “मुख्यमंत्री राज कौशल पोर्टल” लॉन्च किया है। यह पोर्टल राजस्थान के उन लोगों के लिए है, जो लोग रोजगार के लिए अपने प्रदेश से बहार किसी अन्य राज्य में काम करने के लिए गए थे। लेकिन अब लॉकडाउन के कारण रोजगार बंद होने के चलते अपने राज्य क्षेत्र में अपने घर वापिस लौट आयें हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग द्वारा तैयार किया गया “राज कौशल पोर्टल तथा ऑनलाइन श्रमिक एम्प्लॉयमेंट एक्सचेंज” का शुभारम्भ किया है। मुख्यमंत्री जी ने पोर्टल लॉन्च करते हुए बताया कि इस ऑनलाइन वेबसाइट के अंतर्गत उन सभी लोगों का डाटा एकत्र किया जायेगा। जो लोग श्रमिक के रूप में अंसगठित और संगठित क्षेत्र में रोजगार करते हैं। लेकिन कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से लगे लॉकडाउन में उनका रोजगार समाप्त हो गया है।

इसमें श्रमिकों द्वारा किया गया रजिस्ट्रेशन की सहायता से अब राजस्थान सरकार उन सभी बेरोजगार लोगों को राज्य के अंतर्गत ही रोजगार प्रदान करेगी। जिससे प्रवासी श्रमिकों/मजदूरों/कामगारों को आर्थिक मदद मिल सके। नीचे हम आपको Mukhyamantri Raj Kaushal Portal Rajasthan Online Registration | Pravasi Shramik Employment Exchange | राज कौशल पोर्टल ऑनलाइन श्रमिक एम्प्लॉयमेंट एक्सचेंज की पूरी जानकारी प्रदान कर रहे हैं। कृपया इसके लिए इस लेख को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें।

Mukhyamantri-Raj-Kaushal-Portal-Registration-In-Hindi
Mukhyamantri-Raj-Kaushal-Portal-Registration-In-Hindi

मुख्यमंत्री राज कौशल पोर्टल (श्रमिक एम्प्लॉयमेंट एक्सचेंज)

Mukhyamantri Raj Kaushal Portal (Shramik Employment Exchange) –  राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी द्वारा राज्य के कुशल और अकुशल श्रमिक/मजदूरों के लिए ‘विश्व पर्यावरण दिवस’ (5 जून, 2020 शुक्रवार) के दिन राजकौशल पोर्टल तथा ऑनलाइन श्रमिक एम्प्लॉयमेंट एक्सचेंज को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से शुभारंभ किया गया। जिसमें बेरोजगार युवाओं को अपना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा। जिसके माध्यम से उन बेरोजगार श्रमिकों को कार्य कुशलता के अनुसार ही रोजगार प्रदान किया जायेगा।

लेख    राज कौशल पोर्टल
राज्य   राजस्थान
 शरू किया   CM अशोक गहलोत
 लॉन्च तिथि  5 जून, 2020
 लाभार्थी   प्रवासी बेरोजगार श्रमिक
 उद्देश्य   बेरोजगारी डाटा एकत्र करना
 आवेदन प्रक्रिया   ऑनलाइन
हेल्पलाइन मोबाइल नंबर   96104-09010
 Email ID   [email protected]
 आधिकारिक वेबसाइट www.dipr.rajasthan.gov.in
श्रमिक कार्ड पंजीयन यहाँ क्लिक करें
Raj Kaushal Portal (Online Shramik Employment Exchange)-

राज कौशल पोर्टल में 12 लाख प्रवासी श्रमिकों के साथ ही नियोजन कार्यालयों तथा भवन एवं अन्य संनिर्माण बोर्ड के पंजीकृत श्रमिकों, आरएसएलडीसी एवं आईटीआई में प्रशिक्षित कुल 53 लाख से अधिक श्रमिकों एवं जनशक्ति का डाटा शामिल किया गया है। साथ ही करीब 11 लाख से अधिक नियोक्ताओं को भी इस पर पंजीकृत किया गया है। इसके अलावा कोई भी श्रमिक इस पोर्टल पर स्वयं का रजिस्ट्रेशन करा सकता है।

इस ऑनलाइन वेबसाइट पोर्टल के माध्यम से राज्य में श्रमिकों की मांग / आपूर्ति को पूरा किया जाएगा। औद्योगिक इकाइयां पोर्टल पर अपनी मांगों को उठा सकती हैं और वे भी पंजीकरण कर श्रमिकों को रोजगार प्रदान कर सकते हैं। श्रमिकों के आवेदन / पंजीकरण फार्म भरने की ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू हो गई है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ट्वीट करके इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा की “श्रमिकों को आसानी से रोजगार मिल सके तथा श्रमिकों की कमी का सामना कर रहे उद्योगों को सुगमता से श्रमिक उपलब्ध हो सकें इसके लिए राज्य सरकार ने एक बड़ी पहल की है।” राज कौशल पोर्टल योजना के तहत सभी प्रवासी बेरोजगार श्रमिकों को ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा। जिसके उपरांत उन्हें रोजगार प्रदान किया जाएगा।

राज कौशल पोर्टल ऑनलाइन पंजीकरण हेतु आवश्यक दस्तावेज-
आधार कार्ड मोबाइल नंबर वर्तमान या अंतिम नौकरी का विवरण
श्रमिक कार्ड निवास प्रमाण पत्र  पासपोर्ट-साइज फोटो
प्रवासी श्रमिक राज कौशल पोर्टल रजिस्ट्रेशन के लिए पात्रता शर्तें-
  • Raj Kaushal Portal में पंजीकरण केवल राजस्थान के मूल निवासी ही कर सकते हैं।
  • सरकारी नौकरी वाला व्यक्ति राज कौशल पोर्टल में आवेदन नहीं कर सकता है।
  • बेरोजगार युवा ही Online Shramik Employment Exchange में आवेदन करेगा।
  • रोजगार के लिए इच्छुक व्यक्ति भी Mukhyamantri Raj Kaushal Portal में पंजीकरण कर सकता है।
  • व्यक्ति के पास आधार कार्ड होना आवश्यक है।
  • साथ ही भामाशाह कार्ड या श्रमिक कार्ड होना आवश्यक है।

इसे भी पढ़ें: NREGA List – मनरेगा जॉब कार्ड राज्यवार सूची देखें 2020

Rajasthan Raj Kaushal Portal के उद्देश्य और लाभ-
  • मुख्यमंत्री जी द्वारा प्रवासी और राज्य के अंतर्गत बेरोजगार युवाओं का डाटाबेस तैयार करना।
  • इस पोर्टल के माध्यम से राज्य के कुशल एवं अकुशल कामगार युवाओं का डाटाबेस आसानी से तैयार हो जायेगा।
  • कुशल तथा अकुशल कामगार युवाओं को कौशल विकास विभाग के माध्यम से प्रशिक्षण प्रदान करेगी।
  • इस पोर्टल के माध्यम से सभी विभागों तथा अन्य रोजगार प्रदाताओं द्वारा युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने का उपयोग करेगी।
  • बेरोगार युवाओं को ‘मुख्यमंत्री रोजगार योजना’ के तहत रोजगार प्रदान करने में यह पोर्टल मुख्य भूमिका अदा करेगा।
  • आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना और फ्री गारंटी लोन में भी यह पोर्टल महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।
  • Raj Kaushal Portal पर में श्रमिक स्वयं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा सकता है।
  • इस पोर्टल में 12 लाख प्रवासी श्रमिकों के साथ ही नियोजन कार्यालयों तथा भवन एवं अन्य संनिर्माण बोर्ड के पंजीकृत श्रमिक हैं।
  • पोर्टल में आरएसएलडीसी एवं आईटीआई में प्रशिक्षित कुल 53 लाख से अधिक श्रमिकों एवं जनशक्ति का डाटा शामिल किया गया है। साथ ही करीब 11 लाख से अधिक नियोक्ताओं को भी इस पर पंजीकृत किया गया है।
मुख्यमंत्री राज कौशल पोर्टल ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया-

Mukhyamantri Raj Kaushal Portal Online Registration Process – प्रवासी श्रमिकों को राज कौशल पोर्टल और ऑनलाइन श्रमिक एम्प्लॉयमेंट एक्सचेंज में ऑनलाइन पंजीकरण या रजिस्ट्रेशन करने के लिए नीचे दी गयी प्रक्रिया को पूरा करना होगा।

  1. सर्वप्रथम मुख्यमंत्री राज कौशल पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट https://rajkaushal.rajasthan.gov.in/ पर जाएये।
  2. राजस्थान ऑनलाइन श्रमिक एम्प्लॉयमेंट एक्सचेंज पोर्टल में आने के बाद, SSO ID द्वारा पंजीयन करें।
  3. अगर आपके पास SSO ID नहीं है तो आज ही इस लिंक पर क्लिक करके अपनी SSO ID बनाये।
  4. इसके बाद, आप आसनी से राज कौशल पोर्टल में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हो।
  5. ऑफलाइन आवेदन या पंजीकरण के लिए आपको अपने नजदीकी ई-मित्र केंद्र में जाना होगा।
  6. अंत में सभी डॉक्यूमेंट ऑनलाइन सबमिट करके आप Raj Kaushal Portal के तहत पंजीकृत हो सकते हो।

 

Click Here

इसे भी पढ़ें: बेरोजगारी भत्ता राजस्थान 2020 | ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म

Govt-Process-Helpline-Team

Leave A Reply

Your email address will not be published.