[फॉर्म] मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना 2020 पंजीकरण

MP CM Bhavantar Bhugtan Yojana 2020 Online Registration | Check MSP & Kharif Crops Details In Hindi | मप्र भावांतर भुगतान योजना लाभार्थी किसान सूची

MP-CM-Bhavantar-Bhugtan-Yojana-In-Hindi
MP-CM-Bhavantar-Bhugtan-Yojana-In-Hindi

MP CM Bhavantar Bhugtan Yojana 2020: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको इस लेख के माध्यम से “मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना” की जानकारी देंगे। मध्य प्रदेश सरकार “मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना” के लिए ऑनलाइन पंजीकरण शुरू करने जा रही है। इस योजना के तहत, सरकार उन सभी किसानों को पूरी कीमत घाटे (भाव + अंतर) का भुगतान करेगी, जो न्यूनतम समर्थन मूल्यों (MSP) के नीचे कृषि उत्पादन बेचते समय नुकसान झेलते थे। सरकार अगले कुछ दिनों में 13 खरीफ फसलों के लिए इस योजना को शुरू करेगी जो राज्य के भीतर और बाहर MSP के नीचे बेची जा रही हैं। किसान ई-उपार्जन पोर्टल, मप्र सरकार की आधिकारिक वेबसाइट mpeuparjan.nic.in पर 28 जुलाई से 31 अगस्त तक पंजीकरण कर सकते हैं।

इस भावांतर भुगतान योजना का प्राथमिक उद्देश्य फसल की बिक्री संकट के मामले में किसानों की आय बढ़ाने के लिए है। यदि खरीफ फसलों को बाजार में न्यूनतम समर्थन मूल्यों (MSP) की तुलना में कम कीमत पर बेचा जा रहा है, तो वे अपने नुकसान को कवर करने के लिए भावांतर भुगतान योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। इस वित्त वर्ष 2019-20 में 13 खरीफ फसलों की बाजार मूल्य एमएसपी से कम पाया गया है, इसलिए मध्यप्रदेश सरकार ने Mukhyamantri Bhavantar Bhugtan Yojana 2020 को फिर से शुरू करने के लिए यह कदम उठाया है।

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना 2020 (किसान पंजीयन):

Madhya Pradesh Mukhyamantri Bhavantar Bhugtan Yojana (Farmer Registration) – इस साल, सभी किसानों को पता चल जाएगा कि लगभग सभी खरीफ फसलों की बाजार कीमतें न्यूनतम समर्थन मूल्यों (MSP) से कम हैं। इसलिए, सरकार ने किसानों के सुधार के लिए इस भावांतर योजना को फिर से शुरू करने का फैसला किया है। भवान्तर भुगतान योजना अब राज्य में कपास, मूंग, गेहूं, उड़द, बाजरा, चावल, जह्वर, सोयाबीन, मूंगफली, तिल, रामतिल, मक्का और तूर दाल (Cotton, Moong, Wheat, Urad, Bajra, Rice, Jahwar, Soyabean, Groundnut, Til, Ramtil, Maize and Toor Daal) सहित 13 फसलों के लिए शुरू की गई है।

इस योजना के तहत, किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्यों (MSP) और कीमत के बीच अंतर के लिए मुआवजे मिलेगा, जहां किसान अपने उत्पाद मंडी में बेचते हैं। मॉडल मूल्य एमपी और 2 अन्य राज्यों में उत्पाद की औसत कीमत ले कर तय किया जाता है जहां ऐसी फसल उगाई जाती है। योजना लाभों के लिए, किसानों को ऑनलाइन पंजीकरण करने और पंजीकृत कृषि बाजारों में अपनी कृषि उपज बेचने की आवश्यकता है।

एमपी सीएम भावांतर भुगतान योजना के लिए पंजीकरण फॉर्म-

MP CM Bhavantar Bhugtan Yojana 2020 Online Registration Form – भावांतर भुगतान योजना को पहली बार अक्टूबर 2018-19 में लगातार गिरते कृषि कीमतों को बनाए रखने के लिए एमपी सरकार द्वारा शुरू किया गया था। मंडी में बिक्री संकट के मामले में किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए सरकार ने इस योजना को लॉन्च किया था। इस वर्ष भी, बहुत सारी फसलों की बिक्री में संकट बना हुआ है, इसलिए सरकार खरीफ फसलों के लिए इस योजना को फिर से शुरू करने जा रही है। ऑनलाइन बुकिंग 28 जुलाई से शुरू होगी और 31 अगस्त 2020 तक जारी रहेगी। अधिक जानकारी के लिए कृपया मध्यप्रदेश सरकार के ई-उपार्जन पोर्टल (MP e-Uparjan Portal) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। लिंक नीचे उल्लिखित है।

Official Website: MP e-Uparjan Portal (Farmer Registration)

Mukhyamantri-Bhavantar-Bhugtan-Yojana-MP-E-Uparjan-Portal
Mukhyamantri-Bhavantar-Bhugtan-Yojana-MP-E-Uparjan-Portal
  • मप्र भावांतर भुगतान योजना एक किसान-अनुकूल योजना है और लगातार निगरानी, ​​निरीक्षण और मिशन मोड कार्यान्वयन की आवश्यकता है।
  • इसके अलावा, सरकार इन फसलों को निर्यात करने पर ध्यान केंद्रित करेगी ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) से अधिक कीमत मिलती है।
  • वर्तमान में, मूंग का बाजार मूल्य 5,000 प्रति क्विंटल है और एमएसपी 6,925 है। अरहर के लिए, बाजार मूल्य 3,900 रुपये प्रति क्विंटल है और एमएसपी 5,650 रुपये प्रति क्विंटल है।
  • इस योजना के तहत “2022 तक दोगुनी किसानों की आय” करने की ओर एक प्रमुख कदम है।

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश कृषक बन्धु योजना 2020 | ऑनलाइन आवेदन फॉर्म

मप्र राज्य में भावांतर भुगतान योजना कैसे काम करता है?

How Bhavantar Bhugtan Yojana Works in MP State – लोगों के दिमाग में एक लगातार सवाल रहता है कि “भावांतर भुगतान मूल्य घाटा योजना काम कैसे करता है”। यहां हम आपको मूल्य घाटे के बारे में विस्तार से बता रहे हैं। मान लीजिए कि मक्का के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) 3,000 रुपये प्रति क्विंटल है और मॉडल दर 2,500 रुपये है और:

  1. यदि किसान मंडी में फसल को 2,700 रुपये प्रति क्विंटल में बेचते हैं, तो सरकार सीधे किसानों के बैंक खाते में प्रति क्विंटल 300 रुपये (3000 – 2700 रुपये) का भुगतान करेगी।
  2. यदि किसान 2,300 रुपये प्रति क्विंटल पर फसल बेचते हैं, तो राज्य सरकार फसलों के लिए प्रति क्विंटल केवल 500 रुपये (3000 – 2500 रुपये) प्रदान करेगी।

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना ऑनलाइन पंजीकरण के बारे में अधिक जानकारी के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से किसान कल्याण तथा कृषि विभाग, मध्य प्रदेश सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।

Click Here

MP Krish Portal: Mukhyamantri Bhavantar Bhugtan Yojana

कृषि संबंधित समस्याओं के समाधान हेतु हेल्पलाइन: 1800-180-1551

यह भी पढ़ें: MP CMO Helpline – मप्र मुख्यमंत्री कमलनाथ हेल्पलाइन नंबर

Govt-Process-Helpline-Team

Leave A Reply

Your email address will not be published.