[ACT] मातृत्व अवकाश प्रोत्साहन योजना 2020 प्रार्थना पत्र

Maternity Leave Incentive Scheme 2020 Application Format | Check New Maternity Act Benefits In India | मैटरनिटी लीव इंसेंटिव-नवीनतम मातृत्व अवकाश नियम

0
PM-Maternity-Leave-Incentive-Scheme-In-Hindi
PM-Maternity-Leave-Incentive-Scheme-In-Hindi

Maternity Leave Incentive Scheme 2020 :- मातृत्व अवकाश प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत महिलाओं को 26 हफ़्तों का अवकाश सवेतन  देने वाले नियोक्ताओं को पारिश्रमिक वेतन सरकार द्वारा वापस किया जाएगा I इस योजना के अंतर्गत जो भी नियोक्ता 15,000 रूपये की मासिक आय तक की सीमा पर महिलाओं को नौकरी पर रखते है एवं उन्हें 26 हफ़्तों के मातृत्व अवकाश के दौरान जो भी वेतन देते है | वह अब उन्हें सरकार द्वारा वापस किया जाएगा I मातृत्व अवकाश अधिनियम 2017 के तहत मातृत्व अवकाश 12 हफ़्तों का होता था | जिसे बढ़कर अब 26 हफ़्तों का कर दिया गया है।

यह नवीनतम मातृत्व अवकाश नियम अभी फिलहाल कुछ राज्य में शुरू किया गया है। जैसे की राजस्थान, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश आदि राज्यों में। इस आर्टिकल में हम आपको Maternity Leave Incentive Scheme 2020 Application Format के बारे में पूरी जानकारी प्रदान कर रहे हैं। कृपया इसके लिए पूरा लेख अंत तक ध्यान से पढ़ें।

मातृत्व अवकाश प्रोत्साहन योजना 2020 प्रार्थना पत्र

योजना का नाम Maternity Leave Incentive Scheme
लॉन्च डेट 1961
योजना का रीलॉन्च 2017
दुबारा शुरुआत नरेन्द्र मोदी द्वारा
सम्बंधित विभाग श्रम एवं रोजगार मंत्रालय
कुल बजट 400 करोड़ रूपये
योजना के लाभार्थी गर्भवती श्रमिक महिलाऐं
PM मातृत्व अवकाश प्रोत्साहन योजना का मुख्य उद्देश्य-

Objective of Maternity Leave Incentive Scheme – उच्च विशेष प्रतिष्ठानों में शिशु के जन्म से पहले एवं बाद में अवकाश दिया जाता है |साथ ही कई अन्य लाभ भी प्रदान किये जाते है I मातृत्व अवकाश अधिनियाँ 2019 के अनुसार महिलाओं को मिलने वाले सवेतन अवकाश की अवधि 12 हफ़्तों से बढाकर 26 हफ़्तों तक कर दी गई है I ये ही नहीं श्रम एवं रोजगार मंत्रालय उन योजनाओं पर भी काम कर रहा है | जिसके तहत उन नियिक्ताओं को 7 हफ्ते तक हा सवेतन वापस किया जाएगा I जो 15,000/- तक की वेतन सीमा पर महिलाओं को नौकरी पर रखते है एवं उन्हें 26 हफ़्तों का मातृत्व अवकाश प्रदान करते है I मातृत्व अवकाश योजना के तहत न सिर्फ महिलाओं को स्वास्थ सुरक्षा मिलेगी | बल्कि अन्य लाभ भी प्राप्त होंगे I

मातृत्व अवकाश प्रोत्साहन योजना चर्चा में क्यों है?
  • विशेष रूप से निजी कार्यक्षेत्र के नियोक्ताओं को 7 हफ्ते का सवेतन वापस किया जाएगा I जो की 15,000 की वेतन सीमा पर महिलाओं को न सिर्फ नौकरी देते है, बल्कि उन्हें 26 हफ्ते का मातृत्व अवकाश भी प्रदान करते है I
  • पहले कई कार्य क्षेत्रों में यदि महिला गर्भवती होने पर अवकाश के लिए आवेदन करती थी | तो बिना कोई ठोस कारण दिए उसके साथ किये अनुबंध को निरस्त कर दिया जाता था I जिससे सम्बंधित ज्ञापन श्रम विभाग को मिलते रहते थे I जिसको ध्यान में रखकर ये संशोधन किया गया है I
  • Maternity Leave Incentive Scheme के तहत महिलाओं को न सिर्फ 26 हफ्तों तक आराम मिलेगा I बल्कि उन्हें अवकाश के दौरान भी वेतन मिलता रहेगा याने उनकी नौकरी भी सुरक्षित रहेगी I
मैटरनिटी लीव इंसेंटिव स्कीम के प्रभाव-
  • प्रस्तावित Maternity Leave Incentive Scheme यदि स्वीकृत एवं क्रियान्वित हो जाती है | तो महिलाओं को स्वास्थ सुरक्षा तो मिलेगी ही | साथ ही उन्हें अन्य स्वास्थ लाभ भी प्रदान किये जाएँगे, जैसे मुफ्त चेक अप I
  • मातृत्व अवकाश की अवधि के दौरान महिलाओं का रोज़गार सुरक्षित रहेगा I साथ ही उन्हें इस अवकाश के दौरान पूर्ण वेतन भी मिलेगा I इस योजना में किये संशोधन के कारण मातृत्व अवकाश की अवधि भी बढाकर 12 हफ़्तों से बढाकर 26 हफ़्तों तक कर दी है I
Maternity Leave Incentive ACT अधिनियम 1961-
  1. इस अधिनियम (ACT) के अंतर्गत वे दुकान, गोदाम, खदान ,कारखाने आते है | जहा 10 से अधिक कर्मचारी हो I
  2. New  Maternity Leave Incentive Act का उद्देश्य शीशु के जन्म से पहले एवं बाद में एक निश्चित अवधि के लिए महिलाओं को अवकाश प्रदान करना था | उनके रोजगार का नियमन करना है I इसके साथ साथ गर्भवती महिलाओं को अन्य लाभ प्रदान करना भी है I
  3. मातृत्व लाभ अधिनियम में 2017 में किये संशोधन के बाद मातृत्व अवकाश की अवधि को बढाकर 26 हफ्ते तक कर दिया गया है I

Click Here

मातृत्व अवकाश प्रोत्साहन योजना PIB Notificiation: Click Here

इसे भी पढ़ें: Pradhan Mantri Yojana List – प्रधानमंत्री द्वारा शुरू की गई योजनाओं की सूची

Govt-Process-Helpline-Team

Leave A Reply

Your email address will not be published.