[Post Office] किसान विकास पत्र योजना 2019 KVP ब्याज दर

[Apply Online] Kisan Vikas Patra Yojana 2019 at indiapost.gov.in | Check KVP Interest Rate, Calculator & Maturity | पोस्ट-ऑफिस किसान विकास पत्र इंटरेस्ट रेट

0
Kisan-Vikas-Patra-Yojana-In-Hindi
Kisan-Vikas-Patra-Yojana-In-Hindi

Kisan Vikas Patra Yojana 2019 :- प्यारे दोस्तों, जैसा की आप जानते हो की भारत के नागरिकों के हित के लिए चलाई जाने वाली लघु बचत की बहुत योजनाए हैं। इनमें से “किसान विकास पत्र (KVP​)” एक महत्वपूर्ण योजना है। इस योजना के अंतर्गत उच्च ब्याज दर का लाभ प्राप्त किया जा सकता है। इसलिए निवेश के क्षेत्र में यह एक महत्वपूर्ण योजना मानी जाती हैं।आज हम आपको इसकी सभी महत्वपूर्ण जानकारी आपको देंगे।

किसान विकास पत्र (KVP) की शुरुआत वर्ष 1998 में की गई थी। लेकिन कुछ कारणों वश 2011 में सरकार ने इस योजना पर रोक लगा दी थी। जिसके पश्चात इस योजना का लाभ सरकार द्वारा प्रदान नहीं किया जा रहा था। लेकिन कुछ वर्षों बाद 2014 में इसे फिर से पूर्ण रुप से लागू कर दिया गया है। जिसका लाभ कोई भी नागरिक प्राप्त कर सकता है।खासतौर पर यह योजना देश के ग्रामीण और छोटे एरिया में रहने वाले लोगों के लिए लाभदायक है। यदि आप भी “किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra)” के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं। किसान विकास पत्र में निवेश करने की प्लानिंग कर रहे हैं। तो आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से किसान विकास पत्र के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करेंगे।

किसान विकास पत्र योजना क्या है?

What is Kisan Vikas Patra Yojana:

  • किसान विकास पत्र एक तरह का सर्टिफिकेट है, जिसे कोई भी व्‍यक्ति खरीद सकता है। इसे बॉन्‍ड की तरह जारी किया जाता है।
  • Kisan Vikas Patra Scheme पर एक तय ब्‍याज मिलता है। यह छोटी बचत स्कीम्स में आता है।
  • साधारण भाषा में बात करें तो किसान विकास पत्र एक प्रकार का सरकारी बांड है।
  • जो कि अन्य निवेश पत्रों की तरह ही होता है। आप इन प्रमाणपत्रों की कीमत अदा करके अपने पैसे गवर्नमेंट के पास जमा कर सकते हैं।
  • आप जितना पैसा इन प्रमाण पत्रों में के द्वारा सरकार के पास जमा करते हैं। उस से 2 गुना पैसा एक निर्धारित अवधि के बाद गवर्नमेंट आपको वापस कर देती है।
(KVP) किसान विकास पत्र ब्याज दर और मिनिमम डिपॉजिट- 

Kisan Vikas Patra Yojna- Check Interest Rate & Minimum Deposit: 

  • किसान विकास पत्र (KVP) का लाभ लेने के लिए किया जाने वाला मिनिमम डिपॉजिट 1000 रुपये है।
  • बाद में आप 1000 रुपये के मल्टीप्लाई यानी गुना में अमाउंट बढ़ा सकते हैं। यानी 1500 या 2500 या 3500 का निवेश नहीं किया जा सकता।
  • फिलहाल Kisan Vikas Patra- 1000, 5000, 10000 और 50000 रुपये के मूल्यवर्गों (Denominations) में उपलब्ध हैं। इसमें डिपॉजिट की कोई मैक्सिमम लिमिट नहीं है।
  • किसान विकास पत्र लेते वक्त आपको एक आइडेंटिटी​ स्लिप दी जाती है। अगर कभी आपका सर्टिफिकेट फट जाए या खो जाए तो इसकी दूसरी कॉपी लेने में यह स्लिप काम आती है।
किसान विकास पत्र के प्रकार-

Types of Kisan Vikas Patra:

सरकार द्वारा नागरिकों की सुविधा के लिए तीन प्रकार के किसान विकास पत्र (KVP) तैयार किए गए हैं। जो कि निम्न प्रकार हैं –

(1) एकल किसान विकासपत्र (Single Holder Type KVP Certificate)-

  • एकल किसान विकास पत्र किसी वयस्क व्यक्ति की ओर से अपने स्वयं के लिए खरीदा जा सकता है।
  • अथवा वह व्यक्ति किसी अवयस्क व्यक्ति के लिए भी खरीद सकता है।
  • मैच्योरिटी पर इसकी कीमत Kisan Vikas Patra धारक को मिलती है।
  • मैच्योरिटी के पहले यदि किसान विकास पत्र धारक की मृत्यु हो जाती है। तो कानूनी तौर पर उसके उत्तराधिकारी को इसका लाभ प्रदान किया जाता है।

(2) ज्वाइंट-ए टाइप किसान विकासपत्र (Joint A Type Kisan Vikas Patra)-

  • जॉइंट टाईप किसान विकास पत्र किसी दो वयस्क व्यक्तियों द्वारा संयुक्त रुप से खरीदा जा सकता है।
  • मैच्योरिटी पर इसकी कीमत किसान विकास पत्र धारक दोनों व्यक्तियों को बराबर – बराबर प्रदान की जाती है।
  • यदि किसी एक धारक की मृत्यु हो जाती है। तो उसके हिस्से की धनराशि को दूसरे जीवित धारक को ट्रांसफर कर दी जाती है।

(3) ज्वाइंट-बी टाइप किसान विकासपत्र (Joint B Type KVP Certificate​)-

  • ज्वाइंट-बी टाइप किसान विकास पत्र भी दो वयस्क व्यक्तियों द्वारा संयुक्त रुप से खरीदा जा सकता है।
  • लेकिन इस विकास पत्र का लाभ मैच्योरिटी के बाद मुख्य किसान विकास पत्र धारक को ही प्रदान किया जाता है।
  • मुख्य किसान विकास पत्र धारक कौन होगा। यह किसान विकास पत्र खरीदते समय ही तय कर दिया जाता है।
  • मुख्य किसान विकास पत्र धारक के ना रहने की स्थिति दूसरे धारक को पैसा मिल सकता है।
केवीपी खरीदने के लिए आवश्यक दस्तावेज-

Documents Required to Buy KVP Certificates:

  1. 2 नवीनतम पासपोर्ट साइज फोटो
  2. पहचान पत्र (राशन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, पासपोर्ट आदि)
  3. निवास प्रमाण पत्र (बिजली बिल, टेलिफोन बिल, बैंक पासबुक आदि)
  4. आधार कार्ड (अक्‍टूबर 2017 में सरकार ने इसे अनिवार्य किया)
KVP​ / किसान विकास पत्र के लाभ-

Benefits of Kisan Vikas Patra (Certificates):

  • किसान विकास पत्र सर्टिफिकेट को कोई अडल्ट यानी वयस्क अपने नाम पर या किसी नाबालिग के नाम पर या दो वयस्कों द्वारा मिलकर खरीदा जा सकता है।
  • KVP- किसान विकास पत्र की वर्तमान ब्याज दर 8.70% है।
  • 100 महीने के पश्चात आपके किसान विकास पत्र में इन्वेस्ट की गई धनराशि दोगुनी हो जाएगी।
  • आप अपना किसान विकास पत्र किसी अन्य व्यक्ति को भी ट्रांसफर कर सकते हैं।
  • किसान विकास पत्र आप 1000 , 5000 , 10000 और 50000 रु तक के खरीद सकते हैं।
  • Kisan Vikas Patra, एक सरकार द्वारा चलाई गई योजना है। इसलिए इस योजना में इन्वेस्ट की गई धनराशि आपकी एकदम सुरक्षित रहती है। और रिटर्न की पूरी गारंटी आप को मिलती है।
  • किसान विकास पत्र से आप अपना मूलधन निकाल सकते हैं।
  • Kisan Vikas Patra (KVP​) को एक शहर से दूसरे शहर एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस अथवा बैंक में ट्रांसफर कर सकते हैं।
    इसमें नॉमिनी बनाने की सुविधा है।
  • KVP को एक व्यक्ति द्वारा किसी अन्य व्यक्ति को या एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे में ट्रांसफर किया जा सकता है।
किसान विकास पत्र (KVP​) के नियम-

Rule of Kisan Vikas Patra Yojana:

किसान विकास पत्र के दुरुपयोग को रोकने के लिए सरकार द्वारा कुछ नियम बनाए गए हैं। जिनके अनुसार ही आप इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

  1. यदि आप किसान विकास पत्र में 50000 रु से अधिक का निवेश करना चाहते हैं।
  2. तो आपको सभी दस्तावेजों के साथ पैन कार्ड भी अनिवार्य रूप से जमा करना होगा।
  3. इसके साथ ही यदि आप 10 लाख से ऊपर का इन्वेस्टमेंट करना चाहते हैं।
  4. तो इसके लिए आपको अपने समस्त स्रोतों से आय का प्रमाण भी प्रस्तुत करना होगा।
  • Post Office Kisan Vikas Patra Apply Online: Click Here
  • Download KVP Scheme (KYC) Norms Form: Click Here

Click Here

यह भी पढ़ें :- डिजिटल लॉकर योजना 2019 ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म (Click Here) & प्रधानमंत्री कर्मयोगी मानधन योजना 2019-20 (Click Here)

प्रिय पाठकों, यह थी सरकार द्वारा देश के ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिकों में बचत को बढ़ावा देने के लिए चलाई जा रही किसान विकास पत्र / Kisan Vikas Patra (KVP​) के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी। यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगे तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।और यदि आपको इससे जुडी कोई अन्य जानकारी या कोई सवाल हमसे पूछना हो तो आप हमे कमेंट के माध्यम से पूछ सकतें हैं। हम जल्द ही आपको जवाब देंगे। हमारे पेज www.govtprocess.in से जुड़ने के लिए धन्यवाद।-

Leave A Reply

Your email address will not be published.