[पंजीकरण] अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना 2019 राजस्थान

[Registration] Inter Caste Marriage Incentive Scheme 2019 Rajasthan In Hindi | Check Benefits & Application Form PDF | इंटर कास्ट मैरिज स्कीम राजस्थान

0
Inter-Caste-Marriage-Incentive-Scheme-In-Rajasthan
Inter-Caste-Marriage-Incentive-Scheme-In-Rajasthan

Inter Caste Marriage Incentive Scheme 2019 :- नमस्कार मित्रो, आज हम आपके लिए राजस्थान सरकार की एक नई योजना जिसका नाम है।राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना। प्रदेश सरकार ने प्रदेशवासियों के लिए एक नई योजना की शुरुआत की है। इस योजना के अंतर्गत राजस्थान के नागरिकों को अंतर्जातीय विवाह करने पर उन्हें प्रोत्साहन के तौर पर आर्थिक सहयता प्रदान की जाएगी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य अंतरजातीय विवाह को बढ़ावा देना है।

आज की पीढ़ी और पहले की पीढ़ी में बहुत अंतर हो गया है। जंहा आज की पीढ़ी अपने अनुसार जीवन जीना चाहती हैं। इसलिए आज के समय में युवा अंतरजातीय विवाह भी कर रहे हैं. लेकिन उनके माता – पिता पहले के समय के होने की कारण वे यह स्वीकार नहीं कर पाते है और फिर उन युवाओं को अपना घर छोड़ कर अलग रहना पड़ता है। ऐसे में उन्हें अपने विवाहित जीवन के साथ जीवन जीने में कठिनाई न हो, इसके लिए राजस्थान राज्य सरकार ने उन्हें वित्तीय सहायता प्रदान करने का फैसला किया है।

क्र. म. योजना की जानकारी बिंदु योजना की जानकारी
1. योजना का नाम राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना
2. योजना का अन्य नाम डॉ. सविताबेन अम्बेडकर विवाह प्रोत्साहन योजना
3. योजना का लांच सन 2013 में
4. योजना की शुरुआत सन 2017 में
5. योजना के लाभार्थी राज्य के अंतरजातीय विवाह करने वाले लोग
6. संबंधित विभाग सामाजिक न्याय एवं सशक्तिकरण विभाग
7. अधिकारिक वेबसाइट https://sjms.rajasthan.gov.in/

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना की विशेषताएं 

Rajasthan Inter Caste Marriage Incentive Scheme Features

  • सरकार द्वारा सुरक्षा => समाज द्वारा अंतरजातीय विवाह पर प्रतिबंध के कारण घर से भागने वाले विवाहित जोड़ों को सरकार द्वारा सुरक्षा प्राप्त होगी।
  • आर्थिक सहायता => अंतरजातीय विवाह करने वाले जोड़ों को एकमुश्त धनराशि प्राप्त होगी| जिससे उन्हें अपना नया जीवन की शुरुआत करने में काफी सहायता प्राप्त होगी।
  • प्रोत्साहन => इस योजना द्वारा प्राप्त प्रोत्साहन राशि से नए जोड़ों को अपना घर बसाने में कोई दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा। यही इस योजना का मुख्य उद्देश्य है।
  • समानता की भावना => अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना समाज में व्याप्त कुरीतियों को नष्ट करके समाज में समानता की भावना व्यक्त करना चाहती है।
  • अंतरजातीय विवाह को बढ़ावा => इस योजना को शुरू कर सरकार चाहती हैं कि राज्य में अलग – अलग जाति के युवा एवं युवती यदि विवाह करना चाहते हैं, तो उन्हें इसके लिए बढ़ावा मिले। और जातियों के बीच में हो रहे अंतर के कारण होने वाले भेदभाव को भी ख़त्म किया जा सके।
  • संयुक्त बैंक खाता => इस योजना के अंतर्गत लड़के एवं लड़की के शादी कर लेने के बाद उनका बैंक में एक संयुक्त खाता खोला जायेगा। ताकि इस योजना में दी जाने वाली सहायता राशि उनके इसी संयुक्त बैंक खाते में जमा की जा सके।
  • वित्तीय सहायता राशि का वितरण => इस योजना में दी जाने वाली वित्तीय सहायता राशि को 2 प्रकार से वितरित किया जायेगा। पहला उनके संयुक्त बैंक खाते में 8 साल के लिए 2.5 लाख रूपये का फिक्स्ड डिपाजिट होगा और बाकी के 2.5 लाख रूपये उन्हें उनके दैनिक जीवन में उपयोग होने वाली चीजों को खरीदने एवं बेहतर जीवन शैली के खर्च के लिए दिए जायेंगे। हालाँकि वे इसका इस्तेमाल अपने लिए एक घर खरीदने या बनवाने में भी कर सकते हैं।
अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना राजस्थान के लिए पात्रता मापदंड :-

Eligibility Criteria for Inter-caste Marriage Incentive Scheme Rajasthan:

राजस्थान सरकार द्वारा चलाई जा रही अंतरजातीय प्रोत्साहन योजना के लिए पात्रता मापदंड कुछ इस प्रकार निर्धारित किए गए हैं –

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन कर्ता राजस्थान का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक की उम्र 35 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • इस योजना के लिए आवेदन करें नए वाले आवेदनकर्ता किसी आपराधिक मामले में दोषी नहीं होने चाहिए।
  • योजना के लिए आवेदन करने के लिए मैरिज सर्टिफिकेट होना भी आवश्यक है।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक की आय ढाई लाख रुपए वार्षिक से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • योजना का लाभ ऐसे आवेदनकर्ताओं को प्रदान किया जाएगा। जिन्होंने पहली बार शादी की हो। जिन्होंने इससे पहले की शादी की होगी। उसे इस योजना में योग्य नहीं समझा जायेगा।

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए विवाह के 1 साल के अंदर ही आवेदन करना होगा तभी इस योजना का लाभ प्राप्त होगा। यदि शादी करने वाले जोड़े में से कोई व्यक्ति किसी अपराधिक मामले से जुड़ा होता हैं, तो उन्हें भी इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं हो सकता है।

डॉ. सविताबेन अम्बेडकर विवाह प्रोत्साहन योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज :-

Documents required for Dr. Savitaben Ambedkar Marriage Incentive Scheme:

अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपके पास निम्नलिखित आवश्यक दस्तावेज होने चाहिए –

  1. आधार कार्ड की कॉपी /Copy of Aadhaar card
  2. वोटर ID कॉपी /Voter ID Copy
  3. पैन कार्ड /Pan Card
  4. जाती प्रमाणपत्र /Caste certificate
  5. बर्थ सर्टिफिकेट /Berth certificate
  6. आय प्रमाण पत्र /income certificate
  7. जोड़े की संयुक्त फोटो /Joint photo of couple
  8. और मैरिज सर्टिफिकेट होना आवश्यक है| /And marriage certificate.
राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना की आवेदन प्रक्रिया :-

Rajasthan Inter Caste Marriage Incentive Scheme Application Process

  • इस योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के लिए आवेदक ‘राजस्थान राज्य सरकार के सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण विभाग’ की अधिकारिक वेबसाइट में जाकर कर सकते है। वेबसाइट में जाने के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें।

Rajasthan-Inter-Caste-Marriage-Incentive-Scheme-Official-Website

  • इस पर क्लिक करेंगे आपके सामने ‘रेडायरेक्ट टू एसएसओ’ की बटन दिखाई देगा, फिर आप उस पर क्लिक करें।जैसा नीचे दिखाया गया है।
Inter-Caste-Marriage-Incentive-Scheme-2019-Rajasthan
Inter-Caste-Marriage-Incentive-Scheme-2019-Rajasthan
  • इसके बाद आपको इसमें लॉग इन करना होगा, यदि आप इस वेबसाइट में पहले यूजर हैं तो आप पहले इसमें खुद को रजिस्टर करें। इसके लिए आप ‘रजिस्टर’ बटन पर क्लिक कर सकते हैं।
  • एक बार इसमें रजिस्टर कर लेने के बाद आप अपने यूजर नेम और पासवर्ड के साथ इसमें लॉग इन करें। फिर यहाँ आपको एक सूची दिखाई देगी जिसमे आपको एसजेएमएस पोर्टल पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको ‘राजस्थान अंतरजातीय प्रोत्साहन योजना’ की लिंक दिखाई देगी उस पर क्लिक करें। और फिर ‘एप्लाई’ बटन पर क्लिक करें। आपकी स्क्रीन पर आवेदन फॉर्म खुल जायेगा। इसमें आप अपनी सभी आवश्यक जानकारी भरें और ‘सेव एंड नेक्स्ट’ बटन पर क्लिक कर दें।
  • इसके बाद आपके सामने एक दस्तावेज अटैच करने का विकल्प आयेगा, जिसमें आपको अपने सभी दस्तावेज एवं अपने पार्टनर के साथ शादी वाली फोटो अपलोड करनी होगी। यह सब हो जाने के बाद अंत में आप ‘सबमिट’ बटन पर क्लिक कर दें।
  • जैसे ही आपका आवेदन फॉर्म सबमिट हो जायेगा, आपको आपका एप्लीकेशन नंबर प्राप्त हो जायेगा, जिसे आप कहीं सुरक्षित करके रख लें।

नोट :- जिला अधिकारी एवं संबंधित विभाग द्वारा आपके आवेदन की जाँच की जाएगी। और यह सत्यापन की प्रक्रिया आवेदन फॉर्म जमा करने के बाद 1 महीने तक चल सकती हैं। और जब यह प्रक्रिया पूरी हो जाएगी तब फिर आवेदकों को लाभ की राशि प्रदान कर दी जाएगी।

विवाह प्रोत्साहन योजना में स्टेटस की जाँच :-

Rajasthan Inter Caste Marriage Incentive Scheme- Track Application Status

अपने आवेदन के स्टेटस की जाँच करने के लिए आवेदकों को इसकी अधिकारिक वेबसाइट में लॉग इन करना होगा. फिर आप इसमें ‘माय आवेदन’ लिंक पर क्लिक करें, जहाँ से आवेदन पत्र आवेदन की वर्तमान स्थिति के साथ आवेदक के डैशबोर्ड में दिखाई देगा। जहाँ वे अपने आवेदन की स्थिति देख सकते हैं।

Download-Inter-Caste-Marriage-Scheme-Rajasthan-Guideline-PDF

यह भी पढ़ें :- राजस्थान मुख्यमंत्री फ्री कोचिंग आवेदन (Click Here) & राजस्थान देवनारायण छात्रा स्कूटी वितरण प्रोत्साहन योजना पंजीकरण (Click Here)

दोस्तों, आपको “राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना / Rajasthan Inter-caste Marriage Incentive Scheme” केसी लगी। यदि आप इस योजना से जुडी कोई अन्य जानकारी या कोई सवाल पूछना चाहते हो। तो आप हमे नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हो। हम आपकी पूरी सहयता करेंगे। अन्य सभी सरकारी योजनाओ की अपडेट्स के लिए हमारे पेज www.govtprocess.in के साथ जुड़े रहें। ध्न्यवाद-

Leave A Reply

Your email address will not be published.