[ICDS] समन्वित-एकीकृत बाल विकास सेवा योजना की जानकारी

Integrated Child Development Services Scheme 2020 In Hindi | Check ICDS Yojna Details & From | आईसीडीएस-समन्वित बाल विकास परियोजना का उद्देश्य

0
Integrated-Child-Development-Services-In-Hindi
Integrated-Child-Development-Services-In-Hindi

Integrated Child Development Services Scheme 2020 :- भारत सरकार की समन्वित-एकीकृत बाल विकास सेवा योजना में आंगनबाड़ी सहायिका प्रति केंद्र कार्य करेगी। यह योजना के सफल क्रियान्वयन की प्रमुख कड़ी है। पिछले जनगणना के अनुसार भारत की कुल जनसंख्या में 0-6 वर्ष के उम्र वाले बच्चों की संख्या 15.8 करोड़ हैं। देश के ये बच्चे ही भारत का आने वाला भविष्य हैं। इन सारे बच्चो मे कुपोषण, कम सीखने की क्षमता है। तथा मृत्यु दर को कम करने की चुनौती के जवाब में अपने बच्चों और नर्सिंग माताओं के लिए सरकार द्वारा ICDS नामक एक योजना का आरंभ किया गया है।

ICDS योजना के अंतर्गत लाभार्थी के रूप में 0-6 साल के आयु वर्ग के बच्चे, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं को शामिल किया गया है। बच्चों के कल्याण, विकास और भरण -पोषण के लिए महिला एवं बाल मंत्रालय विभिन्न योजनाओं को कार्यान्वित करती है। एकीकृत बाल विकास सेवा (Integrated Child Development Services) योजना को 2 अक्टूबर 1975 को आरम्भ किया गया था। एकीकृत बाल विकास सेवा (ICDS) योजना भारत सरकार के बड़े कार्यक्रमों में से एक है। इस योजना का अधिकतर कार्यान्वयन Anganwadi के द्वारा किया जाता है।

समन्वित-एकीकृत बाल विकास सेवा योजना का उद्देश्य-

Objective of Integrated Child Development Services Scheme – बच्चे के उचित मनोवैज्ञानिक, शारीरिक और सामाजिक विकास के लिए नींव रखना। इसके अलावा एकीकृत बाल विकास सेवा योजना का उद्देश्य निम्न प्रकार से है:

  1. 0-6 साल आयु वर्ग के बच्चों की पोषण और स्वास्थ्य स्थिति में सुधार लाना।
  2. बाल विकास को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न विभागों के बीच नीति और कार्यान्वयन के प्रभावी समन्वय को प्राप्त करना।
  3. मृत्यु दर, विकृति, कुपोषण और स्कूल छोड़ने की घटनाओं को कम करना।
  4. बच्चो को साल के 300 दिनों में 500 कैलोरी की ऊर्जा और 12-15 ग्राम प्रोटीन तथा माताओं को 600 कैलोरी की ऊर्जा और 18-20 ग्राम प्रोटीन देना।
  5. बाल विकास को बढ़ावा देने के लिए आंगनवाड़ी (Anganwadi) केंद्रों की स्थापना।
  6. उचित पोषण और स्वास्थ्य शिक्षा के माध्यम से बच्चे के सामान्य स्वास्थ्य और पोषण संबंधी आवश्यकताओं की देखभाल करने के लिए मां की क्षमता को बढ़ाना।
एकीकृत बाल विकास सेवा (ICDS) योजना की सेवाएं-
  • पूरक पोषण (Supplementary Nutrition)
  • पूर्व स्कूल गैर औपचारिक शिक्षा (Pre-school non-formal education)
  • रोग-प्रतिरक्षण (Immunization)
  • पोषण और स्वास्थ्य शिक्षा (Nutrition & health education)
  • स्वास्थ्य जांच (Health check-up)
  • परामर्श सेवाएं (Referral services)।

रोग-प्रतिरक्षण, स्वास्थ्य जांच और परामर्श सेवाएं स्वास्थ्य से संबंधित हैं और स्वास्थ्य प्रणाली के माध्यम से NRHM स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग द्वारा प्रदान की जाती हैं।

इसे भी पढ़ें: राष्ट्रीय शिक्षुता प्रशिक्षण योजना 2020 | ऑनलाइन आवेदन

Integrated Child Development Services (ICDS) Scheme Details-
सेवाएं लक्ष्य समूह किसके द्वारा सेवाएं प्रदान की जाएंगी
पूरक पोषण 6 साल से कम उम्र के बच्चे, गर्भवती महिलाएं और स्तनपान कराने वाली माताएं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और आंगनवाड़ी सहायक
पूर्व स्कूल गैर औपचारिक शिक्षा 3-6 साल के बच्चे आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और आंगनवाड़ी सहायक
पोषण और स्वास्थ्य शिक्षा 15-45 साल की महिलाएं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और आंगनवाड़ी सहायक
टीकाकरण 6 साल से कम उम्र के बच्चे, गर्भवती महिलाएं और स्तनपान कराने वाली माताएं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और आंगनवाड़ी सहायक
स्वास्थ्य जांच 6 साल से कम उम्र के बच्चे, गर्भवती महिलाएं और स्तनपान कराने वाली माताएं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और आंगनवाड़ी सहायक
परामर्श सेवाएं 6 साल से कम उम्र के बच्चे, गर्भवती महिलाएं और स्तनपान कराने वाली माताएं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और आंगनवाड़ी सहायक

समन्वित-एकीकृत बाल विकास सेवा (ICDS) योजना की अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

Click Here

Integrated Child Development Services (ICDS) Scheme: Click Here

इसे भी पढ़ें: Pradhan Mantri Yojana List – प्रधानमंत्री द्वारा शुरू की गई योजनाओं की सूची

Govt-Process-Helpline-Team

Leave A Reply

Your email address will not be published.