[Subsidy] बिहार डीजल अनुदान योजना ऑनलाइन पंजीकरण

Bihar-Diesel-Anudan-Yojana-Subsidy-Form
Bihar-Diesel-Anudan-Yojana-Subsidy-Form

Bihar Diesel Anudan Yojana 2020 :- नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको बिहार राज्य की एक योजना जिसका नाम “बिहार डीजल अनुदान योजना” है की जानकारी देंगे। जैसा की आप सभी जानते हो की सभी राज्यों व केंद्र की सरकार द्वारा किसानो के लिए कई योजनाओं को शुरू किया है। इसी क्रम में बिहार सरकार में इस योजना का शुभारम्भ किया। इस योजना के तहत सरकार किसान को खरीफ फसल हेतु डीजल पम्प सेट से सिंचाई के लिए अनुदान दे रही है। इस योजना के लिए बिहार सरकार ने 280 करोड़ रुपया स्वीकृत किया है।

सरकार ने किसानों को डीजल अनुदान की राशि 50 रुपए प्रति लीटर कर दी है। पहले अनुदान 40 रुपए प्रति लीटर था।सरकार ने कृषि कार्य के लिए प्रति यूनिट बिजली का दर 96 पैसे से घटाकर 75 पैसा कर दिया है। यह दर सरकारी और निजी दोनों ट्यूबबेल के लिए होगी। सब्सिडी पर सरकार करीब 200 करोड़ रुपए खर्च वहन करेगी। यह योजना बिहार राज्य के लिए है तथा योजना का नाम डीजल अनुदान योजना है। नीचे हम आपको कृषि विभाग, बिहार सरकार डीजल अनुदान योजना ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया की पूरी जानकारी प्रदान कर रहे हैं।

बिहार डीजल अनुदान सब्सिडी योजना 2020

Bihar Diesel Anudan Subsidy Yojana – इस योजना के तहत किसान को प्रति एकड़ एक सिंचाई के लिए 10 लीटर पर अनुदान दिया जायेगा। प्रति लीटर 50 प्रतिशत का अनुदान रहेगा जो एक एकड़ में 500 रुपया बनता है। एक किसान को धान का बिचड़ा बचाने एवं जुट फसल की 2 सिंचाई के लिए 1000 रुपया प्रति एकड़ की दर से तथा धान, मक्का, अन्य खरीफ फसलों के अंतर्गत दलहनी , तेलहन, मौसम सब्जी, औषधीय एवं सुगन्धित पौधे हेतु एक ही खेत के लिए अधिकतम 3 सिंचाई के लिए 1500 रु. प्रति एकड़ की दर से डीजल पर अनुदान का किया जायेगा।

यह अनुदान सभी प्रकार के किसानों को देय होगा। अनुदान की राशि पंचायत क्षेत्र के किसानों के अतरिक्त नगर निकाय क्षेत्र के किसानों को भी दी जाएगी। नवार्ड फेज 8 में निर्मित राजकीय नलकूप जो किसानों / किसान समितियों के द्वारा परिचालित किये जाते है उनके द्वारा भी डीजल क्रय कर सिंचाई करने पर अनुदान का लाभ दिया जा सकेगा।

मुख्यमंत्री डीजल अनुदान योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज-

Documents Required for Bihar CM Diesel Anudan Yojana – बिहार डीजल अनुदान योजना के लिए आवश्यक दस्तावेजो की सूची निम्न प्रकार से है।

आधार कार्ड स्थायी प्रमाण पत्र
बैंक खाता डिटेल  डीजल विक्रेता की रसीद
किसान का नवीनतम फोटो     कृषि प्रमाण पत्र
डीजल अनुदान सब्सिडी योजना के लिए पात्रता-

Eligibility for Bihar Diesel Anudan Subsidy Yojana – डीजल अनुदान योजना का लाभ लेने के लिए निम्न पात्रता का होना जरूरी है।

  1. आवेदन करने वाला किसान बिहार का स्थायी निवासी होना चाहिए |
  2. इसके साथ ही आवेदक के पास अपना किसान कार्ड होना चाहिए |
  3. और किसान का बैंक मे अकाउंट होना भी आवश्यक है।

इसे भी पढ़ें: बेरोजगारी भत्ता बिहार ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2019-20

बिहार डीजल अनुदान /सब्सिडी के लिए ऑनलाइन पंजीकरण-

Online Registration for Bihar Diesel Anudan Yojana – यदि आप इस योजना के लिए आवेदन करना चाहते है। तो नीचे दिए गए चरणों का पालन करें।

  • इसके लिए आपको सबसे पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट  पर जाना होगा। DBT Agriculture Dept, Govt of Bihar Portal के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें।

BIHAR-DIESEL-ANUDAN-SUBSIDY-YOJANA

  • यहां यदि आप रजिस्टर नहीं हैं, तो आपको पहले वेबसाइट पर अपने आप को रजिस्टर करना होगा।
  • इसके लिए आपको DBT कृषि विभाग पोर्टल पर “Register” विकल्प के ड्राप डाउन मेनू से “पंजीकरण करें” आप्शन पर क्लिक करें।

  • अब आपके सामने एक नया वेब पेज ओपन होगा। यहाँ आपको अपना आधार नंबर और नाम दर्ज करना होगा।
  • फिर आपसे अन्य जानकरी ली जाएँगी जिन्हे भरके आप अपना रजिस्ट्रेशन पूरा कर सकते हैं
  • इसके बाद, अब आपको वापस होमपेज में “ऑनलाइन आवेदन करें” आप्शन पर क्लिक करके “डीजल अनुदान 2019-20” विकल्प पर क्लिक करना है।
  • यहां आप अपनी Registration ID डालकर बिहार डीजल अनुदान योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भर सकते हो।

Click Here

यह भी पढ़ें: बिहार किसान सम्मान निधि योजना 2019-20

प्यारे दोस्तों, आपको हमारा आर्टिकल “बिहार डीजल अनुदान योजना 2020 (Bihar Diesel Anudan Yojana In Hindi)” कैसा लगा। यदि आप इस योजना से जुडी कोई अन्य जानकारी या कोई सवाल हमसे पूछना चाहते हो। तो आप हमे नीचे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हो हम जल्द ही आपको जवाब देंगे। बिहार व अन्य सभी राज्यों की सरकारी योजनाओ की सबसे पहले जानकारी पाने के लिए हमारे पेज www.govyprocess.in के साथ जुड़े रहें। धन्यवाद-

Leave A Reply

Your email address will not be published.